नौकरी दिलाने के बहाने नर्सिगकर्मी से किया दुष्कर्म, चौंमू थाने में दर्ज हुआ मामला

Nursing worker raped
Nursing worker raped

The Fact India: जयपुर के बड़े अस्पताल में नौकरी दिलाने के बहाने एक नर्सिगकर्मी से दुष्कर्म (Nursing worker raped) किए जाने का मामला सामने आया है। पीड़िता को अस्पताल में बुलाकर डॉक्टर के चैंबर में ले जाकर दुष्कर्म किया गया। इतना ही नहीं, किसी को बताने पर उसे बदनाम करने की धमकी भी दी गई। चौंमू थाने में पीड़िता की ओर से कंपाउंडर महेंद्र चौधरी के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई गई है। इस दौरान आरोपी फरार हो गया। फिलहाल, ACP चौंमू राजेंद्र सिंह को मामले की जांच सौंपी गई है।

श्रीमाधोपुर की रहने वाली 20 साल की पीड़िता ने रिपोर्ट में बताया कि महेंद्र चौधरी ने उसे चौंमू में बराला अस्पताल में नौकरी दिलाने की बात बोलकर बुलाया था। उसे चैंबर में ले गया था। चैंबर में कोई नहीं था। कुछ देर में डॉक्टर के आने की बात कहीं। इसके बाद उसे चैंबर में अच्छी नौकरी का झांसा देकर दुष्कर्म (Nursing worker raped) किया। किसी को बताने पर उसे बदनाम करने की धमकी दी। वह काफी डर गई। इसके बाद चुपचाप घर लौट गई। परेशान होकर उसने परिजनों से पूरी बात कहीं। तब परिजनों ने चौंमू थाने पहुुंच कर दुष्कर्म किए जाने का मामला दर्ज कराया।

जांंच में सामने आया हैं कि महेंद्र चौधरी और पीड़िता दोनों तीन साल से परिचित हैं। महेंद्र चौधरी भी पीड़िता के गांव के पास में ही श्रीमाधोपुर का रहने वाला है। पीड़िता (Nursing worker raped) श्रीमाधोपुर में ही एक निजी अस्पताल में नौकरी करती है। जांच में पता लगा कि महेंद्र चौधरी कंपाउंडर है और वह अलग-अलग तीन अस्पतालों में नौकरी करता है। उसने पीड़िता को चौंमू के बराला अस्पताल में अच्छी नौकरी दिलाने के बहाने बुलाया। पीड़िता के रिपोर्ट दर्ज कराने के बाद आरोपी फरार हो गया। पुलिस मामले की जांच में जुटी है।