राजस्थान में सर्दी का आगाज, 16 व 17 अक्टूबर को इन संभाग में बारिश का यलो अलर्ट

Pre-monsoon

The Fact India: राजस्थान में मानसून की विदाई के बाद एक ओर जहां कश्मीर की बर्फबारी के कारण प्रदेश में तापमान में गिरावट (Winter) दर्ज हुई है. वहीं पश्चिमी विक्षोभ के चलते 16 व 17 अक्टूबर को भरतपुर, जयपुर व कोटा संभाग के अलावा हरियाणा से लगते जिलों में बारिश का यलो अलर्ट जारी किया गया है. दो दिन तक पूर्वी राजस्थान में हल्की से मध्यम दर्जे की बारिश होगी. अलवर, भरतपुर, करौली और धौलपुर में दोनों दिन बारिश की संभावना है.

अनियंत्रित कार उछलकर गिरी माता के पदयात्रियों पर, ड्राइवर समेत 4 की मौत

मौसम केंद्र जयपुर के निदेशक आर.एस.शर्मा के अनुसार बंगाल की खाड़ी से आने वाली पूर्वी हवाओं और पश्चिमी विक्षोभ के चलते दो दिन तक बारिश (Winter) की गतिविधियां होती रहती है. पूर्वी राजस्थान में दो दिन के दौरान करीब 12 जिलों में बारिश हो सकती है, जबकि पश्चिमी राजस्थान के लिए कोई अलर्ट जारी नहीं किया गया है. उल्लेखनीय है कि 9 अक्टूबर को राजस्थान के सभी भागों से मानसून की विदाई हो गई थी औऱ उसके बाद से ही दिन के समय हल्की गर्मी और रात को हल्की ठंडक का एहसास हो रहा है.

इन इलाकों में गिरा तापमान

जम्मू कश्मीर में हुई इस सीजन की पहली बर्फबारी का असर राजस्थान के भीलवाडा, अलवर, जयपुर, सीकर, कोटा, सवाईमाधोपुर, जैसलमेर, जोधपुर, बूंदी, चुरु, नागौर समेत कई जिलों पर पड़ा है. यहां रात का तापमान 2-8 डिग्री सेल्सियस तक नीचे आया है. मौसम विशेषज्ञों की माने तो जिस तरह उत्तरी भारत के इलाकों में वेस्टर्न डिस्टरबेंस का असर दिखा है औऱ आने वाले समय में स्थिति इसी तरह की बनी रही तो राजस्थान में इस बार जल्दी दस्तक दे सकती है.